AAPNI BHASHA - AAPNI BAAT

My blogs

About me

Gender MALE
Industry Arts
Location PARLIKA, RAJASTHAN, India
Introduction डॉ.सत्यनारायण सोनी- १० मार्च, १९६९ नै परलीका गांव में जलम्या डॉ. सत्यनारायण सोनी राजस्थानी रा चर्चित कथाकार हैं। 'घमसाण' कहाणी संग्रै सारू आप राजस्थानी भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अकादमी-बीकानेर, मारवाड़ी सम्मेलन-मुंबई अर ज्ञान भारती, कोटा सूं पुरस्कृत हुया। सोनी री बाल-साहित्य री तीन पोथ्यां भी छपी है। कहाणी संग्रह 'इक्कीस' राजस्थानी री पै'ली वेब-बुक। साहित्य अकादेमी-नई दिल्ली रै राजस्थानी परामर्श मंडल रा आप मनोनीत सदस्य भी रैया। परलीका रै राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मांय आप व्याख्याता(हिन्दी)पद पर कार्यरत। ------------------------------------ विनोद स्वामी- १४ जुलाई, १९७७ नै परलीका गांव में जलम्या विनोद स्वामी राजस्थानी रा चर्चित युवा कवि हैं। हिन्दी कविता संग्रै 'आंगन, देहरी और दीवार' अर टाबरां सारू 'गीत-गुलशन' अर 'वीरों को सलाम' पोथ्यां छपी हैं। चंद्रसिंह बिरकाळी पुरस्कार अर श्री सुगन साहित्य सम्मान मिल चुक्या हैं। पत्रकारिता सूं खास लगाव। पत्र-पत्रिकावां में रचनावां छपती रैवै। आपरी रचनावां रा हिन्दी, अंग्रेजी अर पंजाबी अनुवाद भी हुया है। साहित्य अकादेमी-नई दिल्ली री स्वर्ण जयंती पर भोपाल रै भारत-भवन मांय भी आप काव्य-पाठ कर'र राजस्थानी कविता रो मान बधायो। राजस्थानी भाषा मान्यता आंदोलन सारू आखै राजस्थान री जातरा करी।