संजीव

My blogs

Blogs I follow

About me

Gender MALE
Location दिल्ली
Introduction इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तो क्या जहन्नुम में भी चला जाऊं तो भी छपे हुए शब्दों का मोह कम न होगा।
Interests सिर्फ और सिर्फ सचिन तेंदुलकर की पारियां। सचिन को लेकर इस कदर दीवानगी कि ट्वेंटी-ट्वेंटी विश्वकप मुकाबले (फाइनल भी) इसलिए नहीं देखे क्योंकि सचिन इसमें नहीं खेल रहे थे।सचिन के आउट होते ही मेरे लिए हिंदुस्तानी पारी भी ख़त्म मान ली जाती है। सचिन के संन्यास लेने की खबरें सुनकर दिल बैठ जाता है। लोग पूछते हैं सचिन ने संन्यास ले लिया तो किसे देखोगे भला?...मैने तय कर लिया है कि उसी दिन क्रिकेट जगत अपना एक दर्शक तो जरूर खो देगा।
Favorite Movies दिलीप कुमार और ख़ास तौर पर राजकुमार की बुढ़ौती में की गई तमाम फ़िल्में....। रजनीकांत और उत्पल दत्त की फ़िल्में हंसने -ठठाने के लिए खूब पसंद हैं। अमिताभ बच्चन की कई फ़िल्में लाजवाब कर गईं।
Favorite Music पंडित भीमसेन जोशी का गायन। नुसरत फ़तेह अली खान के सूफ़ियाना क़लाम। मेंहदी हसन -फ़रीदा ख़ानम की ग़ज़लें। मन्ना की आवाज में मधुशाला का गायन.
Favorite Books गिरमिटिया गांधी (गिरिराज किशोर), जिन्ना की त्रासदी (डॉ.अजित जावेद), शहंशाह ( नागनाथ इनामदार), ज़िंदगी का कारवां (चंद्रशेखर), सूरज का सातवां घोड़ा, (धर्मवीर भारती), नाच्यो बहुत गोपाल (अमृतलाल नागर), डाक बंगला (कमलेश्वर), काला जल (शानी), राग दरबारी (श्रीलाल शुक्ल), मेरे आक़ा ( फ़हमीदा रियाज़), बाबर, मैं जब पाकिस्तान में भारत का जासूस था (मोहनलाल भास्कर), सावित्री, बारामासी, कौन बनेगा अरबपति, कश्मीर का षड्यंत्र, राधेय, ग़ालिब छुटी शराब....और भी बहुत सारी। मुंशी प्रेमचंद, मंटो, इस्मत चुगतई और फणीश्वरनाथ रेणु की तमाम रचनाएं। काशीनाथ सिंह की कहानियां हों या संस्मरण कुछ भी। हरिवंश राय बच्चन, पाश, धूमिल, गोरख पांडेय, सुरजीत पातर, निदा फ़ाजली, बशीर बद्र की रचनाएं। वैसे, ओशो साहित्य पढ़ना भी कम नहीं भाता। (पसंदीदा पुस्तकों को यहां क्रमवार नहीं दिया गया है...जैसे-जैसे याद आया घुरपेट दिया गया है। कथाकारों से क्षमा याचना सहित..।