जितेन्द़ भगत

My blogs

Blogs I follow

About me

Gender MALE
Industry Education
Occupation Teaching
Location DELHI, India
Introduction सोचता हूँ अगर मैं शुरू में ही स्‍थायी नौकरी पा गया होता तो शायद इतना कुछ देखने-सीखने का अवसर नहीं मि‍लता। 2003 से दि‍ल्ली‍ वि‍श्वाविद्यालय के कॉलेजों में पढ़ाने का अवसर मि‍ल गया था। कुछ वर्ष वेस्‍टर्न UP के गॉंवों में स्‍कील डेवलपमेंट की सरकारी ट्रेनिंग क्‍लास चलाई। दुनि‍या देखने का भी मौका मि‍ला। आज यही मानता हॅू कि‍ कि‍सी कॉलेज में पढ़ाने से ज्‍यादा शुकून कहीं नहीं है और अब इसके अति‍रि‍क्‍त मेरा कोई ध्‍येय भी नहीं है। सौभाग्‍य से महाराजा अग्रसेन कॉलेज में पढ़ा भी रहा हूँ। एक मि‍त्र ने शुभकामना देते हुए कहा कि‍ चलो, ओपनिंग हो गई! मैंने कहा- भाई, इसे ओपनिंग नहीं, कमबैक बोलो!
Interests कई दि‍नों से सहज-सरल मुस्‍कान ढूंढ रहा हूं ! बार-बार अपने नन्‍हें बेटे के चेहरे पर नि‍गाह जाती है, काश ! मुस्‍कान उन पर्चो की तरह बांट सकता, जो सुबह के अखबारों में पार्लर या कि‍सी उत्‍पाद के वि‍ज्ञापन के लि‍ए नामुराद की तरह चलें आते हैं।
Favorite Movies मैं आजाद हूं, जाने भी दो यारों, पड़ोसन( महमूद वाली), शहीद, तीसरी कसम, क्रांति‍, वो 7 दि‍न, राजा हि‍न्‍दुस्‍तानी, गदर, फ़ना, हेरा-फेरी, मुन्‍ना भाई MBBS
Favorite Music तूझसे नाराज़ नहीं ज़ि‍न्‍दगी हैरान हूं मैं(मासूम), दि‍ल हूम-हूम करे घबराए(रूदाली), लंबी जुदाई चार दि‍नों दी(हीरो), दि‍ल है छोटा-सा छोटी-सी आशा (ए आर रहमान), बाज़ार, उमराव जान, कि‍शोर कुमार और जगजीत सिंह
Favorite Books कबीर, प्रेमचंद, अज्ञेय, नि‍र्मल वर्मा